पुस्तकालय / वाचनालय

library booksपुस्तकालय में लगभग १५०० पुस्तकें है जिसमे लगभग सन्दर्भ ग्रन्थ व शब्दकोष है l वाचनालय में लगभग १० पत्र पत्रिकाएँ नियमित आते है l छात्राओं को इनका पूर्ण उपयोग करने की स्वतंत्रता है l

पुस्तकालय पुस्तकें लेने के लिए छात्राओं को कुछ नियमों का पालन करना अनिवार्य है जो इस प्रकार है -

पुस्तकालय से प्रत्येक छात्रा एक बार में दो पुस्तकें प्राप्त कर सकती है l

पुस्तकालय से प्राप्त पुस्तिका की सुरक्षा एवं समय पर लौटने की जिम्मेदारी प्राप्तकर्ता की ही है l

पुस्तकालय से प्राप्त पुस्तकें अधिकतम १५ दिनों के लिए उपयोग हेतु अपने पास राखी जा सकेगी ! इसके बाद १/- पुस्तक प्रतिदिन विलंब शुल्क देय होगा l

महाविद्यालय पुस्तकालय में उपलब्ध ५०००/- से अधिक मूल्य की पुस्तक व ग्रन्थ व पत्र पत्रिकाएँ वहीँ बैठकर पढने के लिए उपलब्ध रहेंगी l ऐसी सामग्री को घर ले जाकर उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी l

पुस्तकालय में स्वाध्याय का वातावरण बनायें रखे l स्वाध्याय में बाधा डालने वाले को पुस्तकालय से बाहर किया जा सकता है l

महाविद्यालयों में उपलब्ध सामग्री मात्र की छात्राओं व शिक्षिकाओं के लिए ही है l

परीक्षार्थी को परीक्षा के १० दिन पूर्वे अथवा पुस्तकालय की सूचना पर पुस्तकें लौटानी होंगी अन्यथा उन्हें परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी स्वयं छात्रा की ही होगी l

पुस्तकालय के कार्ड खो जाने पर रू. ५०.०० देकर ही दूसरा कार्ड दिया जायेगा l

जिन छात्राओं ने परीक्षा के समय ५०० जमा कराकर पुस्तके ली हैं उन्हें परीक्षा समाप्ति के १५ दिन के अन्दर पुस्तकें वापस करनी होगी l

जो छात्रायें परीक्षा के दौरान एक दो पुस्तकें लेंगे उन्हें २००./-रू. प्रति पुस्तक कि दर से जमा करने पर उपलब्ध होंगी l

महाविद्यालय के कर्मचारी अथवा क्षेत्रीय सम्भ्रांत व्यक्ति के नाम से पुस्तकें उपलब्ध नहीं होंगी

अतः इसके लिए आग्रह न करें l

Important Links

Some Pictures